Breaking News
Home 25 गया

गया

जनता इंटर कॉलेज पौड़ी में तैनात प्रवक्ता की बीएड की डिग्री फर्जी पार्इ गर्इ है। विश्वविद्यालय से फर्जी होने के सबूत मिलने पर एसआइटी ने प्रवक्ता के खिलाफ मुकदमे की संस्तुति कर दी है। एसआइटी अब तक फर्जी शिक्षकों के 40 मामले पकड़ चुकी है। शासन ने फर्जी डिग्रीधारी शिक्षकों की जांच सीबीसीआइडी की एसआइटी को सौंपी है। अभी तक एसआइटी प्राथमिक और जूनियर शिक्षकों की डिग्री की जांच कर रही थी। मगर शासन के निर्देश पर इंटरमीडिएट के फर्जी शिक्षकों की जांच भी शुरू की गई है। इस मामले में एसआइटी को पौड़ी जनपद के जनता इंटर कॉलेज ल्वली के प्रवक्ता महेश पाल की डिग्री को लेकर शिकायत मिली थी। एसआइटी ने जांच करते हुए प्रवक्ता की डिग्री छत्रपति जी शाहू महाराज विश्वविद्यालय कानपुर भेजी। जहां डिग्री से जुड़े कोई भी रिकॉर्ड मैच नहीं हुए। विश्वविद्यालय से फर्जी होने के प्रमाण मिलने पर एसआइटी ने आरोपी शिक्षक महेश पाल के खिलाफ फर्जीवाड़े के आरोप में मुकदमे की संस्तुति कर दी। एसआइटी प्रभारी एएसपी श्वेता चौबे ने बताया कि आरोपी शिक्षक महेशपाल ने दर्शाया है कि उन्होंने 2012 में बीएड की है और 2016 में पौड़ी में राजनीति विज्ञान के प्रवक्ता पद पर नियुक्ति पाई थी।

पति से हुआ झगड़ा तो अपने दो छोटे बच्चों को लेकर पत्नी घर से निकल पड़ी और गुस्से में दोनों बच्चों को तेज गति से आ रही ट्रेन के नीचे फेंक दिया। जिन्हें लोगों ने बचा लिया और अस्पताल में भर्ती करा दिया, लेकिन उनमें से एक बच्चे की मौत हो गई, दूसरी बच्ची की हालत भी गंभीर है।  घटना ...

Read More »