Breaking News
Home 25 खबरें 25 ट्रंप के इस फ़ैसले से शीत युद्ध की वापसी का डर!

ट्रंप के इस फ़ैसले से शीत युद्ध की वापसी का डर!

सोवियत संघ के पूर्व राष्ट्रपति मिखाइल गोर्बाचेव ने कहा है कि अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप की शीत युद्ध की अहम परमाणु हथियार संधि को तोड़ने की योजना परमाणु निरस्त्रीकरण के लिए बड़ा झटका होगी.

गोर्बाचेव ने ही 1987 में अमरीका के तत्कालीन राष्ट्रपति रोनल्ड रीगन के साथ इंटरनेशनल-रेंज न्यूक्लियर फ़ोर्स (आईएनएफ़) संधि पर हस्ताक्षर किया था.

ट्रंप का कहना है कि रूस आईएनएफ़ संधि का उल्लंघन कई बार कर चुका है. रूस ने ट्रंप की योजना की निंदा की है और कहा है कि वो भी पलटवार करेगा.

रूस ने कहा है कि राष्ट्रपति पुतिन अमरीकी सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन के रूसी दौरे में इस पर जवाब मांगेंगे.

जर्मनी अमरीका का पहला सहयोगी है, जिसने ट्रंप के इस रुख़ की आलोचना की है. जर्मनी के विदेश मंत्री हाइको मास ने कहा है कि अमरीका को इसे लेकर फिर से विचार करना चाहिए और उसे यूरोप के साथ परमाणु निरस्त्रीकरण के भविष्य को लेकर सोचना चाहिए.

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*